Join Telegram

Join Now

Join WhatsApp

Join Now

अब सबका बनेगा आयुषमान भारत कार्ड | Ayushman Bharat Yojana New Update

Rate this post

अब सबका बनेगा आयुषमान भारत कार्ड | Ayushman Bharat Yojana New Update

आपको जानकारी के लिए बता दे कि आयुष्मान भारत योजना जिसे एबीवाई कहते हैं या फिर आयुष्मान भारत कार्ड भी बोलते हैं. तो इस योजना के बारे में बहुत ज्यादा प्रचार प्रसार किया गया. बहुत सारे लोग इसका लाभ भी ले रहे हैं. लेकिन बहुत सारे लोग ऐसा है जिनका बन नहीं रहा है आयुष्मान भारत कार्ड और बारबार सवाल करते हैं कि आयुष्मान भारत कार्ड बनेगा कैसे, किन लोगों का बनता है, किनका नहीं बनता, बहुत सारे लोगों को ये चीज मालूम ही नहीं है. बहुत सारे आम लोग हैं जो मिडिल क्लास के लोग हैं वो सोचते हैं कि सबका बन रहा है मेरा क्यों नहीं बन रहा है.

आपको बता दे कि किन लोगों का बनता है किन लोगों का नहीं बनता है और किन लोगों का बनेगा किन लोगों का नहीं बनेगा और सरकार ने नया अपडेट क्या दिया है आयुष्मान भारत कार्ड के बारे में वो भी आपको बताने जा रहे है ताकि हर लोग को ₹5 लाख के इलाज का लाभ मिल सके. तो ये फ्री इलाज का 5 लाख का जो योजना है आयुष्मान भारत योजना. तो इस योजना का लाभ सिर्फ और सिर्फ आपको बता दूं बी बीपीएल धारी को मिलता है बीपीएल धारी जिसको बिल्लो प्रवर्ती लाइन बोलते हैं और सीधा समझिए आसान भाषा में बताता हूं.

इसे भी पढ़े – PM Awas Yojana पर मोदी ने ले लिया सबसे बड़ा फैसला

बीपीएल उसे कहते हैं जो गरीबी रेखा से नीचे रहते हैं, उन्हें बी बीपीएल कहा जाता है. सीधा समझ लीजिए और उन्हीं लोगों का ये आयुष्मान भारत कार्ड बनता है क्योंकि इनका लिस्ट जारी होता है सरकार के तरफ से. भारत सरकार के तरफ से ये योजना है और हर स्टेट गवर्नमेंट की तरफ से जो बीपीएल परिवार रहते हैं. वहां से लिस्ट जारी किया जाता है ऑनलाइन और वो लिस्ट में आपका नाम है तभी आपका बनता है.

तो सीधा समझ लीजिए कि अगर बीपीएल में आप है आप गरीबी रेखा से नीचे में है तभी आपको आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिलेगा या फिर कार्ड बनवा सकते हैं. बहुत सारे लोग सीधा देखते हैं कि भाई मेरा नहीं बन रहा है मेरा लिस्ट में नाम नहीं आ रहा है. अब आएगा तब आएगा उनका कभी नहीं आता है क्यों नहीं आता क्योंकि वो बीपीएल में नहीं रहते. अब बीपीएल में कौन रहते है कैसे पता करे कौन बीपीएल में है कौन नहीं. मैं आपको बता दूं बीपीएल में जो रहते हैं उनको सरकार के सारी योजनाओं का लाभ मिलता है.

इसे भी पढ़े – लाडली बहना MP आवास योजना पहली फेज से कार्य सुरु

सारी योजनाएं जैसे 100% योजना सरकार का जो होता है वो बीपीएल परिवार वालों को मिलता है बाकी उससे ऊपर वालों को थोड़ा बहुत लाभ मिलता है, लेकिन ज्यादातर 100% जैसे कोन कोन योजना का बता दू जैसे कि प्रधानमंत्री आवास योजना किसको मिलता है, जो बीपीएल में है जिनका नाम बीपीएल में जो गरीबी रेखा से नीचे है उनको प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिलता है. आयुष्मान भारत योजना का लाभ उन्हीं को मिलता है.

इसके अलावा सरकार की तरफ से बहुत सारी योजनाएं हैं जो उनको लाभ मिलता है. अब मन में सवाल होगा कि बीपीएल वाले होते कौन है, कैसे नाम जुड़ता है, बीपीएल के लिस्ट में कैसे जुड़ता है, कब जुड़ता है तो इस पे भी चर्चा करूंगा लेकिन पहले बता दूं कि सरकार ने क्या अपडेट किया. सरकार के तरफ से अभी कहा जा रहा है कि आयुष्मान भारत कार्ड अब तो बीपीएल वालों का लगभग सभी का बन ही चुका है.

इसे भी पढ़े – राजस्थान फ्रि साइकिल योजना मे आवेदन कैसे करे 2024

अब जो मिडिल क्लास फैमिली है आम लोग हैं उनको भी आयुष्मान भारत योजना का लाभ दिया जाए. इस पर विचार किया जा रहा है सरकार की तरफ से, जैसे कि आपने देखा होगा कि 80 करोड़ परिवारों को अपने देश में राशन का लाभ मिलता है. मतलब राशन मिलता है राशन कार्ड भी है उनके पास लेकिन 80 करोड़ लोगों के पास आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं. आयुष्मान भारत योजना का लाभ उसको मिलता है जो अंतोदय योजना का लाभ लेते हैं.

देखते होंगे कार्ड में भी होता है लाल कार्ड, हरा कार्ड इस तरह के कार्ड होता है सफेद कार्ड. तो जिन लोगों के पास लाल कार्ड होता है जो अंतोदय योजना का लाभ लेते हैं जिनको 35 किलो अनाज मिलता है परिवार को उसमें 5 किलो का चक्कर नहीं रहता. जिसके पास कार्ड है उसे 35 किलो अनाज मिलता है चाहे उसके परिवार में दो व्यक्ति ही क्यों ना हो चाहे तीन व्यक्ति ही क्यों ना हो. उन लोगों को ही लाभ मिलता है और उन्हीं लोगो को आयुमान भारत योजना का भी लाभ मिलता है.

इसे भी पढ़े – Mp बेरोजगारी भत्ता योजना

उन्हीं लोगों का आवास योजना का भी लाभ मिलता है तो ये गरीबी रेखा में आते कैसे हैं. गरीबी रेखा में आने के लिए देखिए होता क्या है कि अभी अपने देश में एनपीआर होने वाला है. अभी तो इलेक्शन खत्म हुआ है सरकार भी बन चुका है तीसरी बार मोदी जी फिर से प्रधानमंत्री बन चुके है.

अब देखिए आपको बता दूं कि तो ये सरकार गठन तो हो चुका है. आपको बता दूं जो एनपीआर होगा जिसे नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर कहते हैं अब सरकार गठन होने के बाद जल्दी ही एनपीआर होगा. जिसे हम जनगणना कहते हैं आम भाषा में अब स्टार्ट होने वाला है इसमें कोई टाइम नहीं लगेगा, क्योंकि 2011 में जनगणना हुआ था आपने देखा होगा बिहार जैसे राज्यों में जातीय जनगणना भी हो चुका है.

इसे भी पढ़े – प्रधानमंत्री आवास योजना 2024-2025

बिहार में हो चुका है जनगणना और भी कई स्टेट ने जनगणना करा चुका है लेकिन बाकी जहां बचा हुआ है राष्ट्रीय स्तर पर भारत की तरफ से तो पूरे देश में जनगणना होगा जल्द ही चालू होगा और उस जनगणना में तय करता है कि कौन एपीएल होता है. कौन बीपीएल होता है, कौन अमीरी रेखा में है, कौन गरीबी रेखा में है, वही तय करता है कैसे तय करता है.

इसे भी पढ़े – पीएम किसान सम्मन निधि योजना के तहद कितनी राशी को बढाया गया

जो जनगणना होता है तो आपके पास जो अधिकारी जाते हैं आपके फैमिली का नाम लिखने के लिए सारा जो उसमें डिटेल्स लिखने के लिए उसी में तय होता है क्योंकि वो पूछते हैं आपके पास गाड़ी है, आपके पास घर है, आपके पास कितना जमीन है, आप क्या काम करते हैं, क्या रोजगार है, आप करते क्या हैं, तो ये सब वहां पे तय होता है कि आपकी फैमिली का इनकम कितना है कितना कमाते हैं आपके पास गाड़ियां कितनी है तो इसी से तय होता है एपीएल और बीपीएल.

कि घर किसको घर मिलना चाहिए और किसको नहीं मिलता है. तो उसी पर अंक तय होता है और जो लिस्ट तय होता है तो उसी में पता चलता है कि कौन एपीएल है कौन बी बीपीएल. अब एपीएल में भी आते हैं बीपीएल में भी आता है तो भी 80 करोड़ लोगों तो राशन कार्ड बन ही जाता है. लेकिन सारे गरीबी रेखा से नीचे नहीं होता ये जरूरी नहीं कि 80 करोड़ लोगों को राशन मिल रहा है तो 80 करोड़ लोग गरीबी रेखा से नीचे हैं.

इसे भी पढ़े – मध्य प्रदेश में लाडली बहना आवास का अब पैसा मिलेगा

ये बात दिमाग से निकाल दीजिए यही बहुत सारे लोगों को मालूम नहीं है वो आते हैं सिर्फ राशन वाले लिस्ट में वो भी हालांकि जनगणना के आधार पे ही बनता है लेकिन वो आते हैं सिर्फ राशन वाले लिस्ट में मतलब मिडिल क्लास फैमिली में आते हैं पिछड़े फैमिली में आते हैं. लेकिन जो गरीबी रेखा से आते हैं नीचे आते हैं वो लगभग आपको बता दूं कि अपने देश में मात्र और मात्र 35 करोड़ के आसपास ही लोग हैं. जो गरीबी रेखा के नीचे आते हैं.

सरकारी डाटा के अनुसार लेकिन अनाज मिलता है 80 करोड़ लोगों को. इसका मतलब ये नहीं कि सारे गरीबी रेखा से नीचे है. तो इन्हीं 35 करोड़ लोगों को सारा लाभ मिलता है. तो आपको बता दिया कि जनगणना के आधार पर ही होता है. अगर सही में आप गरीब है, सही में आप मजदूर है, सही में आपको इन चीजों की आवश्यकता है, आपका नाम बीपीएल में नहीं है, तो ये जनगणना होने वाला है.

इसे भी पढ़े – फ्री सोलर चूल्हा योजना की जानकारी

तो जनगणना जब करने जाएंगे आपके घर पे तो सारा डिटेल्स आप लिखाए सही में कि मैं मजदूर हूं मेरे पास कच्चा घर है मेरे पास जमीन नहीं है मैं महीने का 5000, 7000 या 10000 कमाता हूं. तो इस तरह से ने जो तय कर रखा है उस हिसाब से उनके कैटेगरी में आप आते हैं कि गरीब है, तो लिस्ट खुद बन में आ जाएगा.

आपका नाम बीपीएल में लेकिन आप सही में अमीर है अच्छा कमाते खाते हैं तो आप सही लिखाए आप एपीएल में आइए अच्छे कैटेगरी में आइए ताकि आपको भी लगे कि चलिए ताकि सरकार को भी लगे कुछ लोग तो चलो गरीबी रेखा से ऊपर जा रहे हैं लेकिन अपने देश में क्या होता है कि जनगणना में लोग गलत लिखवाते हैं. ज्यादातर लोग करते क्या है अनाज लेने के लिए सरकारी आवास लेने के लिए आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए गलत डिटेल्स लिखा देते हैं और इसका लाभ उठा भी रहे हैं.

इसे भी पढ़े – पीएम विश्वकर्मा योजना ऑनलाइन आवेदन

ऐसे-ऐसे लोग हैं जो महीने का 50000, 60000 हज़ार या ₹ लाख कमा रहे हैं और वह भारत सरकार की इन योज्नानाओ का लाभ उठा रहे है. मतलब सरकार का आवास योजना का लाभ उठा रहे हैं, अंतोदय योजना का लाभ उठा रहे है, तो यह गलत है ऐसा नहीं होना चाहिए, तो यह जनगणना होगा तो सही में आपको गरीबी रेखा से नीचे आने लायक है और आपका नाम नहीं है तो इस जनगणना में आप करा सकते हैं और नया राशन कार्ड वाले जो लोग का राशन कार्ड नहीं है नाम जुड़वाना चाहते हैं कटवाना चाहते हैं या फिर नया राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं. परिवार को अलग-अलग करके राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो सारे इसी जनगणना में होगा.

ये जो जब जनगणना होगा एनपीआर होगा आपके पास जो पदाधिकारी जाएंगे तो वहां पे आपको बताना पड़ेगा आप चार भाई है तीन भाई है दो भाई है. अगर सभी का कार्ड एक जगह है क्योंकि 10 साल पहले बना था. तो अब क्या है कि वहां पे अलग-अलग परिवार बना के लिखा सकते हैं कि ये मेरे भाइयों का परिवार है, ये मेरा परिवार है, ये इसका परिवार है, तो परिवार को भी डिवाइड कर सकते हैं, अलग-अलग और अलग-अलग कार्ड बनवा सकते हैं.

इसे भी पढ़े – बिहार उद्यमी योजना 2024 ऑनलाइन आवेदन

तो अलग-अलग आपको लाभ मिलेगा अगर पीएल में सभी लोग अलग-अलग आते हैं तो अलग-अलग सबको आवास योजना का भी लाभ मिलेगा, आयुमान योजना का भी लाभ मिलेगा और भी सरकारी जो योजना का होगा वो लाभ मिलेगा. मैं बिल्कुल आसान भाषा में और आपकी भाषा में बता रहा हूं ताकि आप समझ सके. क्योंकि ये जो योजना का लाभ लेना हो गवर्नमेंट स्कीम की जरूरत हमेशा आम लोगों को ही पड़ती है बड़े लोगों को इससे मतलब नहीं रहता है तो अगर आप सही में इस कैटेगरी में आते हैं अगर सरकारी योजना का लाभ देता है तो आपके लिए आता है.

तो आप इस योजना का लाभ उठाइए तो मैंने जो बताया आपको कि आयुष्मान भारत योजना का कार्ड मिडिल क्लास वालों के लिए भी सरकार विचार कर रही है हालांकि इसकी अभी पुष्टि नहीं हुई. इलेक्शन से पहले ही बात चली थी इलेक्शन खत्म भी हो गया सरकार भी गठन हो गया लेकिन आपको बता दूं कि जो भी नई खबरें निकल के आएगी इसके बारे में कोई अपडेट आएगा तो हम आपको अपनी वेबसाइट पर अपडेट करते रहेंगे.

इसे भी पढ़े – मध्य प्रदेश में लाडली बहना आवास का अब पैसा मिलेगा

लेकिन एनपीआर का आप ध्यान रखें जनगणना का ध्यान रखें बहुत जल्द स्टार्ट होने वाला है कई राज्यों में हुआ है अब पूरे देश में होने वाला है और यही तय करेगा कि आप गरीबी रेखा में रहेंगे या फिर अमीरी रेखा में रहेंगे या फिर किस रेखा में रहेंगे. यह जनगणना ही तय करेगा अगर आप चुक गए इसमें कोई गलती हो गई तो फिर आपको 10 साल 11 साल इंतजार करना होगा क्योंकि 11 साल में एक बार ही जनगणना होता है, एनपीआर होता है.

इसे भी पढ़े – मोदी जी ने लाइव आकर ₹4000 की 17वीं किस्त जारी किए

Join Telegram

Join Now

Join WhatsApp

Join Now

इन्हें भी पढ़े...

Join Telegram

Join Now

Join WhatsApp

Join Now

Leave a Comment